यहाँ १० में से ९ लोग गवाते है उनके पैसे, फिर भी लगती है लोगों की भीड़- Option Trading

यहाँ १० में से ९ लोग गवाते है उनके पैसे, फिर भी लगती है लोगों की भीड़- Option Trading

हां, आपने सही पढ़ा, सेबी के एक हालिया सर्वेक्षण में पाया गया कि शेयर बाजार में विकल्प का व्यापार (Option Trading) करने वाले १० में से ९ लोग पैसा खो देते हैं। फिर भी लोग यहाँ सट्टा क्यों लगा रहे होंगे? और इतने लोगों का पैसा खो जाने का कारण क्या होगा? (why people loss in option trading) इस नुकसान की भरपाई के क्या उपाय हैं? (option trading loss recovery strategies) आज हम इस आर्टिकल में इसके बारे में जानने जा रहे हैं।

ऑप्शन ट्रेडिंग (Option Trading) में लोगों का पैसा खो जाने का कारण क्या है.

क्या आपने कभी सोचा है कि क्या ऐसे कारण हैं कि आप ऑप्शन ट्रेडिंग (Option Trading) कर रहे हैं और आपको हमेशा नुकसान हो रहा है? क्योंकि यदि आप हमेशा एक ही शैली के साथ विकल्पों का व्यापार करके नुकसान उठाते हैं, तो आपको इसे सुधारना होगा। उससे पहले हम देखेंगे कि वो कारण क्या हैं.

  1. किसी भी खरीद और बिक्री व्यवसाय में घाटा होने का केवल एक ही मूल कारण है – खरीद मूल्य बिक्री मूल्य से अधिक है। इसका मतलब है कि अगर आप कोई वस्तु 100 रुपये में खरीदते हैं और उसे 90 रुपये में बेचते हैं, तो 10 रुपये का नुकसान होता है। तो आपका भी ऐसा ही होता है। यह एक सामान्य विश्लेषण है।
  2. ऑप्शन ट्रेडिंग करते समय इस बात पर ध्यान न देना कि बाजार क्या ट्रेंड चल रहा है, और सिर्फ चार्ट देखकर ट्रेंड लेना।
  3. ट्रेडिंग के लिए आपके द्वारा चुने गए शेयर मार्केट (Share Market) का रुझान क्या है? आपने वह शेयर क्यों चुना? बिना सोचे-समझे किसी की सलाह या टिप्स से ट्रेंड लेना।
  4. कौन सा स्ट्राइक मूल्य चुनते हो – एटीएम (At The Money), ओटीएम (Out The Money), या आईटीएम (In The Money)?
  5. बहोत सारे ट्रेडर्स टारगेट तो तय कर लेते है मगर स्टॉप लॉस नहीं लगाते। इसके कई कारण हो सकते है। तो हमारी सलाह ये है की स्टॉप लॉस जरूर लगाए।
  6. क्या आप ऑप्शन ट्रेडिंग (Option Trading) से पहले उस स्टॉक या इंडेक्स का चार्ट देखते हैं और उसकी अगली चाल का अनुमान लगाते हैं?
  7. टेक्नीकल अनॅलिसिस की सही जानकारी न होना भी लॉस के लिए एक बड़ा कारण है।

ऑप्शन ट्रेडिंग (Option Trading) में पैसे खोने के और भी कई कारण हैं। लेकिन सबसे बड़ा कारण यह है कि कई सारे ट्रेडर्स किसी के कहने पर ऑप्शन में ट्रेंड करते हैं, और अपना पैसा खो देते हैं। टिप्स पाने के लिए व्हाट्सएप, टेलीग्राम जैसे प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल किया जाता है। जिसमें एक दिन में लाखों रुपये का मुनाफा कमाने वाले लोगों का पोर्टफोलियो डाला जाता है। यह सब देखकर नए ट्रेडर्स उनके तरफ आकर्षित होते है और ट्रेड में पैसा खो देते है।

ऑप्शन ट्रेडिंग में हमेशा नुकसान होता है क्या करें? (Option trading loss recovery strategies)

चूंकि हमें देखा की ऑप्शन खरीदने में नुकसान होता है, केवल 10% लोग पैसा कमाते हैं और बाकी 90% खो देते हैं, इसलिए ऑप्शन खरीदने के निम्नलिखित कुछ नियमों को ध्यान में रखें और उसके अनुसार कार्य करें।

  1. बाजार की प्रवृत्ति के अनुसार व्यापार करें, ज्यादातर In The Money कॉल या पुट में ट्रेड करे। लेकिन यदि बाजार में तेजी से उतार-चढ़ाव हो रहा है तो, Out the money या At the money में call या put ले सकते हो।
  2. उन दिनों में व्यापार करने से बचें जब बाजार फ्लॅट हो, क्योंकि उन दिनों समय क्षय के कारण कॉल और पुट दोनों नुकसान अधिक होते हैं।
  3. समाप्ति के दिन expiry day अधिक व्यापार न करें, लाभ मिलते ही बाहर निकले। भले ही आप 4-5% तक पहुंच जाएं, लाभ बुक करके मुक्त हो जाये। बहोत सारे लोग समाप्ति के दिन expiry day अधिक पैसा खो देते हैं। संभवतः झिरो- हीरो ट्रेड (Zero To Hero) ट्रेड थोड़े सुरक्षित हैं। लेकिन वह भी तभी जब बाजार का रुख पलटने वाला हो और हमें इसकी पक्की खबर हो। और आप यह पहचानने में सक्षम होना चाहिए कि बाजार कब पलटेगा।
  4. जो ट्रेडर्स लंबे समय तक बाजार में ट्रेड लेकर बैठते है उन्हें पक्का नुकसान उठाना पड़ता है। इसलिए बाजार ट्रेंड को पहचानें और 5 से 10 मिनट के भीतर लाभ के साथ बाहर निकलें। अगर नुकसान हो रहा है तो एक लिमिट तक नुकसान बुक करे और बाहर निकले।
  5. आपके पास जो भी लाभ है उसे बुक करें और उच्च लाभ के प्रलोभन में आए बिना बाहर निकलें। कई बार आपकी स्क्रिप्ट लाभ में होती है लेकिन आप उच्च लाभ के प्रलोभन के कारण लाभ बुक नहीं करते हैं, और फिर जब व्यापार घाटे में चला जाता है तो आप बाजार के बढ़ने का इंतजार करते हैं, इसमें आपको नुकसान उठाना पड़ता है।
  6. एक बार जब आप प्रॉफिट बुक कर लेते हैं तो आप बाजार से मोबाइल फोन या कंप्यूटर लैपटॉप पर ​​ऐप बंद कर देना चाहिए क्योंकि बहुत सारा प्रॉफिट बुक करने के बाद अगर आप दोबारा बाजार पर नजर डालेंगे तो एक ट्रेड लेने के मोह में पड़ जाएंगे। एक व्यापार, और फिर एक व्यापार लेने के बाद, आप नुकसान क्र बैठते है, और यह इतना अधिक हो जाता है कि यह हमारे द्वारा कमाए गए पिछले लाभ को भी खा जाता है।
  7. अगर आप बाजार में लंबे समय तक टिके रहना चाहते हैं तो ऑप्शन खरीदने की बजाय ऑप्शन सेलिंग को अपनाएं, लेकिन इसकी सही जानकारी लेकर ही सेलिंग में उतरें, नहीं तो आपको भारी नुकसान हो सकता है क्योंकि इसमें ज्यादा मार्जिन की जरूरत होती है।
  8. बहुत से लोग ऑप्शन होल्ड करते हैं। इसमें सबसे ज्यादा नुकसान या फायदा होता है, ऑप्शन कैरी करते समय आपको यह जानना जरूरी है कि कल बाजार का रुख क्या रहेगा। क्योंकि गैप अप या गैप डाउन आपको रास्ते पर ला सकता है या ऊपर ले जा सकता है।
  9. अपना दैनिक लक्ष्य निश्चित रखें, फिर चाहे हानि हो या लाभ, आपको बाजार से बाहर निकलना ही होगा।
  10. एक बात हमेशा याद रखें कि अगर ऑप्शन की कीमत ऊंचे स्तर पर भी चली जाती है, तो वह वापस उस स्तर पर नहीं जाती है, उसके बाद वह नीचे चली जाती है, और समाप्ति पर वह बाजार के अनुसार आखिरी कीमत पर रहती है और बंद हो जाती है, तो यह अंत में शून्य भी हो जाता है।
  11. टिप्स ट्रेडिंग फर्जी है, कई लोग खुद बाजार का अध्ययन किए बिना इसके टिप्स पर ट्रेड करते हैं, जितना हो सके इससे बचें।
  12. रिवेंज ट्रेडिंग एक बहुत ही खतरनाक प्रकार है, इसमें लोग बहुत सारा पैसा खो देते हैं, अगर हार भी जाते हैं तो भी लोग चुप नहीं रहते, क्योंकि हमारा दिमाग यह नहीं सुनता कि हम हार गए हैं, और हमारा दिमाग हमें वापस व्यापार करने के लिए कहता है, कि नए व्यापार में हम कवर कर लेंगे, लेकिन यह बिल्कुल विपरीत होता है, नुकसान होता है और यह इतना अधिक हो जाता है कि आपका मन कहता है कि नहीं, पिछला नुकसान इससे बेहतर था। इसलिए रिवेंज ट्रेड लेने से बचें। सुरक्षित व्यापार करें, और अपने मन को भी समझाये, लाभ लेते समय हानि सहना भी सीखें।
  13. यदि यह पूरी तरह से एकतरफा बाजार है, तो आप पूरे दिन विकल्प होल्ड की स्थिति बनाए रख सकते हैं, लेकिन आपको बाजार प्रवृत्ति की पहचान करने में सक्षम होना चाहिए, जैसे यूक्रेन युद्ध, कोविड महामारी की स्थिति, बजट दिवस, चाहे वह अच्छी खबर हो या बुरी खबर, लेकिन इसमें वह भी आपको अपना जोखिम इनाम निश्चित रखना चाहिए, अन्यथा आप रैली में अपनी सारी पूंजी खो सकते हैं।

निष्कर्ष

आशा है कि आप उपरोक्त बातों को ध्यान में रखते हुए व्यापार करेंगे, और ऑप्शन ट्रेडिंग (Option Trading) के इस खेल में हार और जीत जारी रहती है, इसलिए हानि का लक्ष्य यानी स्टॉप लॉस छोटा और लाभ का लक्ष्य मध्यम रखें।

जिस प्रकार आपका मन लाभ को स्वीकार करता है, उसी प्रकार हानि को भी स्वीकार करने के लिए तैयार रहें, परंतु जोखिम प्रतिफल अनुपात को ध्यान में रखते हुए, अर्थात यदि मैं बाज़ार से 1000 रुपये कमाना चाहता हूँ, तो 500 रुपये खोने के लिए भी तैयार रहूँ।

क्योंकि आपको हर बार लाभ नहीं मिलेगा, लेकिन यदि आप उपरोक्त का पालन करते हैं, तो जब भी आपको लाभ मिलता है, तो यह अच्छा होगा, और यदि आपको नुकसान होता है, तो यदि आप इसे स्वीकार करते हैं और जल्दी से बाहर निकल जाते हैं, तो नुकसान कम होगा।

FAQs- Option Trading

Leave a Comment

ये तो अभी शुरुवात है, पिक्चर अभी बाकी है…पीएम मोदी ऑप्शन ट्रेडिंग: अब ये समझ लीजिये फिर कभी नहीं होगा नुकसान शेयर्स क्या होता है?